Everest Kanto के शेयर गुरुवार को लोकप्रिय थे, इसलिए वे मूल्य में 10% बढ़ गए। बीएसई इंडेक्स पर कारोबार के दौरान शेयर 74.65 रुपए के ऊपरी और 67.35 रुपए के निचले स्तर पर पहुंचा। यह 52 हफ्ते का सबसे ऊंचा स्तर है। 28 मार्च 2022 को शेयर की कीमत 249.75 रुपए थी। यह 52 हफ्ते का सबसे ऊंचा स्तर है। कंपनी की मार्केट कैपिटल 805 करोड़ रुपए है।

पिछले साल से एवरेस्ट कांटो के शेयर नेगेटिव रिटर्न दे रहा है। इसका मतलब है कि निवेशकों का बहुत पैसा डूब गया है – 69.27%। हालांकि, छह महीने पहले उन्होंने 41.08% का नेगेटिव रिटर्न दिया था। सबसे हाल का महीना निवेशकों के लिए बहुत बुरा रहा है, क्योंकि स्टॉक -24.33% टूटा है।

कैसे थे तिमाही नतीजे

एवरेस्ट कांटो ने दिसंबर तिमाही के नतीजे जारी किए। बिक्री 44.73% घटकर 256.38 करोड़ रुपये हो गई, जबकि शुद्ध घाटा 129% घट गया। पिछले साल दिसंबर तिमाही में 60.17 करोड़ रुपए का घाटा हुआ था, लेकिन अब यह घटकर 17.45 करोड़ रुपए रह गया है।

एवरेस्ट कांटो स्टील के सिलेंडर बनाता है जो कई अलग-अलग उद्योगों में उपयोग किया जाता है। एक उदाहरण चिकित्सा खाद्य और पेय उत्पादों में उनका उपयोग कर रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *